29 फरवरी तक अपना दिल्ली कूच स्थगित करने का सयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनितिक ) का फैसला : हम सभी दुखी हैं, हमने अपने युवा किसान शुभकरण सिंह को खोया – बीजेपी मंत्री अनिल विज पर एफआईआर की मांग

by

शंबू बॉर्डर : सयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनितिक ) ने 29 फरवरी तक अपना दिल्ली कूच स्थगित करने का फैसला किया है। किसान संगठन के नेता सरबन सिंह पंधेर ने खनौरी सीमा पर मीडिया से बातचीत में यह बात बताई। उन्होंने बताया कि आगे की रणनीति पर 29 फरवरी को फैसला होगा और “हम सभी दुखी हैं, हमने अपने युवा किसान शुभकरण सिंह को खोया है।
किसान नेता पंधेर ने बताया कि 26 फरवरी को डब्ल्यूटीओ (वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन) की एक बैठक है और 25 फरवरी को शंभू और खनौरी दोनों जगहों पर हम सेमिनार करेंगे कि डब्ल्यूटीओ किसानों को कैसे प्रभावित कर रहा है. किसान नेता ने बताया, हम डब्ल्यूटीओ का पुतला जलाएंगे. डब्ल्यूटीओ ही नहीं हम कॉरपोरेट और सरकार का भी पुतला जलाएंगे।

27 फरवरी को होगी किसान यूनियनों की बैठक : संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से किसान नेता सरबन सिंह पंधेर ने आगे कहा, “पुलिस की बर्बरतापूर्ण हरकत से हरियाणा में आपात स्थिति पैदा हो गई है। कल शाम हम दोनों सीमाओं पर कैंडल मार्च निकालेंगे। डब्ल्यूटीओ किसानों के लिए कितना बुरा है, इस पर चर्चा करने के लिए हम कृषि क्षेत्र से बुद्धिजीवियों को बुलाएंगे। 27 फरवरी हम को किसान यूनियनों की बैठक करेंगे। 29 फरवरी को आंदोलन के लिए अपने अगले कदम की घोषणा करेंगे।

बीजेपी मंत्री अनिल विज पर एफआईआर की मांग : किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने कहा, “हम चाहते हैं कि पंजाब सरकार अनिल विज और खनौरी बॉर्डर पर अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करे। सरकार ने आंदोलन में अपने एजेंटों को शामिल कर लिया है और वे हमें मार सकते हैं, पंजाब सरकार के हाथ में कानून व्यवस्था है, लेकिन अगर कोई हमें मार देगा तो वे मुंह मोड़ लेंगे।” उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र और हरियाणा सरकार 21 फरवरी की एफआईआर दर्ज नहीं कर रही है. किसान की हत्या का मतलब है कि पंजाब सरकार केंद्र सरकार के सामने झुक गई है।

‘हरियाणा पुलिस कर रही फर्जी एफआईआर’ : भारतीय किसान यूनियन नौजवान के अभिमन्यू कोहार्ड ने बताया कि खीरी चोपता के किसान खनौरी बॉर्डर पर हमारे साथ आना चाहते हैं। पुलिस ने उन पर हमला किया, उन्होंने ट्रैकर्स के टायर पंक्चर कर दिए। 21 फरवरी को हरियाणा पुलिस ने किसानों के साथ जानवरों जैसा व्यवहार किया। हरियाणा पुलिस किसानों पर फर्जी FIR दर्ज कर रही है। हरियाणा पुलिस ने खालसा सहायता और पांच मेडिकल कैम्प पर हमला किया है। भारत जैसे लोकतंत्र में यह सहनीय नहीं है। किसान नेता ने बताया, “हम सुप्रीम कोर्ट और मानवाधिकार आयोग के सामने कई बातें रखना चाहते हैं। बॉर्डर पर मेडिकल सेवाएं मुहैया कराने वाले एनजीओ को अब सरकार की ओर से धमकी दी जा रही है।

Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You may also like

article-image
पंजाब

शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज युवा पुरस्कार के लिए करें आवेदन: डिप्टी कमिश्नर

सहायक डायरेक्टर युवक सेवाएं के कार्यालय में 30 नवंबर 2022 तक भेजे जा सकते हैं प्रार्थना पत्र पुरस्कार प्राप्त करने वाले नौजवानों को मिलेगा 51 हजार रुपए का नकद इनाम होशियारपुर : पंजाब सरकार...
article-image
पंजाब

हमारा स्वास्थ्य पृथ्वी के स्वास्थ्य पर निर्भर है : डा. रघुवीर

गढ़शंकर :  विश्व भर में स्वास्थ्य दिवस मनाया जा रहा है और इसकी शुरुआत 1950 में डब्ल्यूएचओ द्वारा की गई थी। जिसका मुख्य मकसद लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरुक करना है। सीनियर मैडिकल...
article-image
पंजाब

आरएमपीआई का राजनीतिक सम्मेलन 23 सितंबर को भज्जल में होगा

गढ़शंकर : रिवोल्यूशनरी मार्क्सिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (आरएमपीआई) जिला होशियारपुर के सचिव कामरेड प्यारा सिंह, तहसील गढ़शंकर के अध्यक्ष कामरेड शादी राम कपूर और सचिव रामजी दास चौहान ने प्रेस को एक संयुक्त बयान...
article-image
पंजाब , समाचार , हिमाचल प्रदेश

कांगड़ा के युवक की हत्या,भरमौर के लूणा में : 15 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज, 4 ग्रिफ्तार

चम्बा (भरमौर), 5 दिसंबर : चम्बा जिले के भरमौर क्षेत्र लूणा में एक युवक की हत्या हो गई है। पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ हत्या का मुकद्दमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू...
Translate »
error: Content is protected !!