भयानक गर्मी में राहत पाने के लिए यह शरबत है…… जानिए इनकी रेसिपी

by

गर्मी में हीट वेव से बचाने के लिए शरबत हमे राहत देते है। जिनमे कुछ ख़ास किस्म के शरबत है। जिन्हे बनाने के लिए रेसिपी यहां बता रहे है।
सत्तू का शरबत : गर्मी में एसिडिटी से राहत पाने के लिए सत्तू का शरबत भी पिया जाना चाहिए। वैसे भी सत्तू गर्मी में हीट वेव से बचाने का काम करता है। सत्तू में काफी ज्यादा मात्रा में अघुलनशील फाइबर होता है। इस तरह के फाइबर की वजह से आंत साफ होती है, डाइजेस्टिव सिस्टम बेहतर होता है, कब्ज की समस्या से निजात मिलती है। साथ ही, एसिडिटी की प्रॉब्लम में भी कमी आती है। सत्तू का शरबत कोई भी पी सकता है।

नमकीन सत्तू के शरबत की रेसिपी :   सत्तू में ठंडा पानी डालकर घोल लीजिये, अब इस घोल में काला नमक, हरी मिर्च, पुदीने की पत्तियां, नींबू का रस और भुना जीरा पाउडर डालकर मिला लें। सत्तू का नमकीन शर्बत तैयार है। सत्तू के नमकीन शर्बत को को पुदीना की पत्तियों से गार्निश करके पिएं। गर्मी के मौसम में रोजाना 1 -2 गिलास सत्तू के नमकीन शरबत से गर्मी से राहत मिलेगी और लू से भी बचाएगा।
चंदन का शरबत  :  चंदन का शरबत गर्मियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। चंदन का शरबत लू से बचाता है, साथ ही इसे पीने से शरीर में शीतलता मिलती है। चंदन त्वचा के साथ ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है।  चंदन का शरबत  बनाने के लिए चंदन का पाउडर लें, इसे एक सूती कपड़े पर बांधकर रख दें। एक बर्तन में दूध गर्म करें, इसमें चंदन की पोटली बांधकर रखें। आप रातभर के लिए इसे ऐसी ही रख सकते हैं। इसके बाद इसमें आप शहद (Honey Benefits in Hindi) मिला लें। शहद की तासीर ठंडी या गर्म नहीं होती है, बल्कि शहद को जिस चीज के साथ मिलाया जाता है उसकी तासीर वैसी ही हो जाती है।
खस का शरबत :   गर्मियों में खस का शरबत पीना काफी फायदेमंद होता है। खस की तासीर बेहद ठंडी होती है, इसे पीने से शरीर शरीर को ठंडक मिलती है। खस में प्रोटीन, फाइबर, आयरन और कैल्शियम भरपूर होता है। खस का शरबत  पीने से शरीर हाइड्रेट रहता है, पेट की गर्मी को भी शांत करता है। खस का शरबत बनाने के लिए सबसे पहले पहले खस की घास को रातभर पानी में भिगोकर रखें। एक पैन में खस का पानी और चीनी डालें, इसे अच्छी तरह से उबाल लें। आप चाहें तो इसमें हरा रंग भी मिला सकते हैं। ठंडा होने पर गिलास में डालें, पी लें। आप गर्मी के मौसम में खस के शरबत को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

 बेल का शरबत  :  बेल सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। आयुर्वेद में बेल के पत्ते और फल को काफी महत्वपूर्ण माना गया है। आप गर्मी में शरीर को ठंडक देने के लिए बेल के फल का शरबत (Bel ka Sharbat) पी सकते हैं। बेल का शरबत पीने से लू से बचते हैं, पेट की गर्मी शांत होती है। बेल का शरबत  बनाने के लिए सबसे पहले बेल को तोड़कर इसका सारा पल्प निकाल लें। इसमें थोड़ा पानी डालें। जब बेल से सारा पल्प निकल जाएं, तो इसे अच्छी तरह से मसलते रहें। इसके बाद एक गिलास में बर्फ डालें, इसमें बेल से निकला पल्प डाल दें। तैयार बेल के शरबत  को आप गर्मियों में रोजाना पी सकते हैं।

अनार का शरबत :  अनार पोषक तत्वों से भरपूर होता है। अनार खाने से शरीर की कई समस्याएं दूर हो जाती हैं। गर्मी के मौसम में शरीर को ठंडक देने के लिए भी आप अनार की शरबत  पी सकते हैं। अनार का जूस भी फायदेमंद होता है। अनार का शरबत पेट की अग्नि को बढ़ाता है। अनार का जूस या शरबत आप अपनी समर डाइट में शामिल कर सकते हैं।

गर्मी के मौसम में आप किसी भी शरबत का सेवन कर सकते हैं। इस शरबत में आप छोटी इलायची का पाउडर भी मिला सकते हैं। छोटी इलायची की तासीर ठंडी होती है, इससे शरीर की गर्मी शांत होती है। साथ ही छोटी इलायची सभी तरह के शरबत का स्वाद भी बढता है।

Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You may also like

article-image
पंजाब

मनप्रीत बादल के हलके बठिंडा में कर्मचारियों व पैंशनरों ने धोखा देने के आरोप लगाते हुए निकाला झंडा मार्च,

17 मार्च का मुख्यमत्री चरनजीत सिंह चन्नी के हलके चमकौर साहिब में निकालेगे झंडा मार्च कर्मचारी नेताओं ने थर्मल प्लांट की 1700 ऐकड़ जमीन एक रूपए प्रति एकड़ के हिसाब के साथ कारपोरेट घराणों...
article-image
पंजाब

महान देशभक्त और कम्युनिस्ट नेता कॉमरेड भगत सिंह रामगढ़ झुंगियां को अंतिम विदाई

गढ़शंकर : सीपीआई (एम) नेता कामरेड भगत सिंह रामगढ़ झुंगियां का निधन हो गया है। उनके निधन की खबर से उनके चाहने वालों और इलाके में वामपंथी आंदोलन में शोक की लहर फैल गई।...
article-image
हिमाचल प्रदेश

कर्मचारियों-नागरिकों-सफाई कर्मियों ने दिलाया नगरोटा को सम्मान: बाली

धर्मशाला,12 जनवरी। स्वच्छता सर्वेक्षण में नगरोटा बगबां के अव्वल रहने पर पर्यटन निगम के अध्यक्ष कैबिनेट रैंक आरएस बाली ने नगर परिषद के अधिकारियों कर्मचारियों तथा नगरोटा बगबां के सभी नागरिकों के प्रयासों की...
Translate »
error: Content is protected !!