15 से 30 जून तक चलेगा सघन डायरिया नियंत्रण  पखवाड़ा : DC मुकेश रेपसवाल

by
5 साल  के 53708  बच्चों को घर पर वितरित  की जाएगीं जिंक की  गोलियां-ओआरएस के पैकेट
एएम नाथ। चंबा :   उपायुक्त  मुकेश रेपसवाल  की अध्यक्षता में सघन डायरिया नियंत्रण पखवाड़ा (आईडीसीएफ) के प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर  उपायुक्त कार्यालय  के सभागार में  आज एक बैठक का आयोजन किया गया ।
उन्होंने बताया कि ज़िला में 15 से 30 जून तक सघन डायरिया नियंत्रण पखवाड़े के अंतर्गत प्रथम चरण में 5  वर्ष तक की आयु के 53708  बच्चों को जिंक की  गोलियां तथा ओआरएस के पैकेट   वितरित किए जाएंगे ।
मुकेश रेपसवाल ने अभियान के  प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर  स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार की गई कार्य योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि विशेष कर शहरी  झोपड़-पट्टी बस्तियों,  बिना एएनएम वाले  स्वास्थ्य उप-केंद्रों,  प्रवासियों और  ज़िला के दूरराज  ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष प्राथमिकता रखी जाए ।
उन्होंने  अभियान के निर्धारित लक्ष्य को हासिल करने के लिए  सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को  समन्वय आधारित कार्य व्यवस्था सुनिश्चित बनाने को  भी निर्देशित किया ।
उपायुक्त ने जल शक्ति विभाग के अधिकारियों को  सभी जल स्रोतों की साफ-सफाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह भी सुनिश्चित बनाया जाए  कि पेयजल आपूर्ति  पाइप लाइनों  में सीवरेज लाइन  की गंदगी मिश्रित ना हो ।
बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. विशाल महाजन ने अवगत किया कि अभियान के प्रथम चरण के अंतर्गत  ज़िला के सभी स्वास्थ्य उपखंडों में  जिंक की गोलियां और ओआरएस के पैकेट की समुचित मात्रा में उपलब्धता को सुनिश्चित कर दिया गया है।  साथ में उन्होंने यह भी  बताया  कि द्वितीय चरण के लिए जिंक की गोलियां और ओआरएस के पैकेट की उपलब्धता को लेकर आपूर्ति आदेश जारी कर दिए गए हैं ।
बैठक में कार्यवाही का संचालन करते हुए  ज़िला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.  जेएस भारद्वाज ने पखवाड़े  को लेकर तैयार की गई कार्य योजना की विस्तृत जानकारी   प्रदान की। उन्होंने बताया कि आशा कर्मी घर-घर जाकर जिंक की गोलियां और ओआरएस के पैकेट  वितरित करेंगीं।
आशा कर्मी जिंक की गोलियां लेने  तथा
ओआरएस का घोल बनाने की सही विधि के बारे में जानकारी प्रदान   करने के साथ लोगों को व्यक्तिगत स्वच्छता और साफ-सफाई  के महत्व पर भी जागरूक करेंगीं।
बैठक में उपनिदेशक एवं परियोजना अधिकारी ग्रामीण विकास अभिकरण डॉ. जयवंती ठाकुर, उपनिदेशक प्रारंभिक शिक्षा ज्ञानचंद, अधिशासी अभियंता जल शक्ति जितेंद्र शर्मा, प्रभारी ज़िला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान  डॉ. कविता बिजलवान, सुप्रिटेंडेंट आईसीडीएस अमर सिंह वर्मा, ज़िला मिशन समन्वयक मनोहर नाथ आदि उपस्थित रहे।
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

You may also like

article-image
पंजाब , समाचार , हिमाचल प्रदेश

ट्रैफिक जाम, धरना प्रदर्शन : गढ़शंकर झुंगीयां सड़क की दयनीय दशा और सड़क के धीमी गति निर्माण के कारण लेकर कंडी संघर्ष कमेटी के नेतृत्व में लोगों ने किया

गढ़शंकर : गढ़शंकर झुंगीयां सड़क की दयनीय दशा के कारण और सड़क के निर्माण धीमी गति के कारण लोगों को पेश आ रही समस्याओं को लेकर कंडी संघर्ष कमेटी के नेतृत्व में लोगों ने...
article-image
हिमाचल प्रदेश

सोलन जिला के में एल.आर. संस्थान में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन : डॉ० जगदीश चंद नेगी ने उपस्थित समस्त विद्यार्थियों को एक-एक वोट के महत्व के बारे में किया जागरूक

सोलन, 03 अप्रैल। सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता (स्वीप) कार्यक्रम के अंतर्गत सोलन जिला में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में आज एल.आर. संस्थान ओच्छघाट में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम...
article-image
हिमाचल प्रदेश

उद्यम या स्वरोजगार स्थापित करने के इच्छुक, 1 करोड़ रुपयों तक की परियोजनाओं को स्वीकृति का है प्रावधान : मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत करें आवेदन : DC अपूर्व देवगन

एक करोड़ रुपयों तक की परियोजनाओं को स्वीकृति का है प्रावधान 18 से 45 वर्ष की आयु के हिमाचली युवा कर सकते हैं आवेदन महिला उद्यमियों के मामले में ऊपरी आयु सीमा में 5...
article-image
हिमाचल प्रदेश

ज़िला परिषद सोलन की कैन्टीन के लिए संविदाएं आमंत्रित

सोलन : ज़िला परिषद सोलन के प्रागंण में बनी कैन्टीन को एक वर्ष की अवधि के लिए किराए पर देने के लिए संविदाएं आमंत्रित की गई है। यह जानकारी ज़िला परिषद सोलन के सचिव...
Translate »
error: Content is protected !!